European health system started moaning with Omicron

चरम से पहले ही ओमिक्रोन के चलते कराहने लगी यूरोपीय स्वास्थ्य व्यवस्था 

ब्रिटेन संक्रमितों के इलाज के लिए निजी अस्पतालों से कर रहा समझौता

ब्रिटेन कोरोना संक्रमितों के इलाज के लिए निजी अस्पतालों के साथ समझौता कर रहा है। सेना के मेडिकल कोर के सदस्यों को पहले ही उतार दिया गया है। एनएचएस के चिकित्सा निदेशक कहते हैं कि ओमिक्रोन से मरीज बढ़ रहे हैं और उनका इलाज करने वाले स्टाफ कम हैं।

लंदन, रायटर। कोरोना के ओमिक्रोन (Omicron) वैरिएंट के चलते महामारी की नई लहर के चरम पर पहुंचने से पहले ही यूरोप की स्वास्थ्य व्यवस्था कराहने लगी है। ब्रिटेन राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा (NHS) पर बढ़ते दबाव को कम करने के लिए निजी अस्पतालों के साथ समझौता कर रहा है। स्वास्थ्यकर्मियों (Healthworkers) में संक्रमण दर बढ़ गई है।

कम है अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत

यह हाल तब है जबकि शुरुआती अध्ययनों में यह स्पष्ट हो गया है कि ओमिक्रोन वैरिएंट कोरोना वायरस के डेल्टा व अन्य वैरिएंट की तुलना में कम गंभीर है और इससे संक्रमित होने पर अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत कम पड़ रही है। इसके बावजूद स्पेन, ब्रिटेन, इटली और कई अन्य यूरोपीय देशों में बढ़ते संक्रमितों के चलते स्वास्थ्य व्यवस्था भारी दबाव में आ गई है।

Posts by category

Dayanand Kumar Deepak

Dayanand Kumar Deepak is the MD (Managing Director) and CEO (Chief Executive Officer) of biharisir.com and Whole Time Director, Independent Director, Shareholder/Investor Grievance Committee, Remuneration Committee.

Leave a Reply