भारत में गरीबी दूर करने के उपाय निम्नलिखित है | 2024

भारत में गरीबी दूर करने के उपाय🔴 गरीबी एक अभिशाप है जिसे दूर करना और दूर करने में सहयोग देना सबसे बड़ा पुण्य है | इसे दूर करने के लिए निम्न उपाय सुझाया जा सकते हैं |

भारत में गरीबी दूर करने के उपाय
भारत में गरीबी दूर करने के उपाय

(i) अधिकतम जोत सीमा तय करने के बावजूद भी आए तथा अतिरिक्त भूमि को छोटे तथा सीमांत किसानों के बीच वितरण नहीं हो पाया है उसका पूर्ण वितरण किया जाना चाहिए |

(ii) श्रम प्रधान तकनीकों को ध्यान में रखते हुए औद्योगिक करण करना चाहिए |

(iii)  गरीबी निवारण कार्यक्रम को समुचित तरीके से क्रियान्वयन किया जाना चाहिए |  यदि सरकार से संभव हो तो कानून बनाकर अस्थाई संस्थाओं के द्वारा उसका संचालन किया जाना चाहिए |

(iv)  व्यवसायिक शिक्षा प्रारंभ से ही दी जानी चाहिए |

(v)  कृषि से संबंधित उद्योग, पशुपालन, मुर्गी पालन, मत्स्य पालन, वन उद्योग एवं ऐसे अन्य उद्योगों में निवेश करके विकास किया जाना चाहिए |

(Vi) पिछड़े क्षेत्रों में अनुदान के माध्यम से शिक्षा, स्वास्थ्य, आवास और पेयजल जैसी समस्याओं का समाधान किया जाना चाहिए |

सरकार ने ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में गरीबी दूर करने के लिए अनेक कार्यक्रम जैसे🔴  राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार कार्यक्रम, ग्रामीण क्षेत्र में दूरी क्रांति कार्यक्रम, रोजगार गारंटी योजना आदि चालू किए गए हैं | 

निष्कर्ष के तौर पर हम कह सकते हैं कि जब तक उत्पादन संबंधों को बदला नहीं जाता तब तक हमारे देश के गरीबों के लिए बहुत अधिक आशा करना व्यर्थ है तथा गरीबी की समस्या को हल करने के लिए गरीबी की संकल्पना से बाहर आना होगा |  स्वयं के सुधार द्वारा भी बहुत हद तक गरीबी दूर की जा सकती है |

 लेखक🔴  दयानंद कुमार दिनकर 

Posts by category

Dayanand Kumar Deepak - Chairman & Managing Director, CEO & Whole Time Director, Independent Director, Non-Executive Director, Audit Committee, Shareholder/Investor Grievance Committee, Remuneration Committee.
Dayanand Kumar Deepak

Dayanand Kumar Deepak is the MD (Managing Director) and CEO (Chief Executive Officer) of biharisir.com and Whole Time Director, Independent Director, Shareholder/Investor Grievance Committee, Remuneration Committee.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *